25/05/2009

पेंशन के लिए ससुर को बनाया शौहर

विवेक राय , गोरखपुर : रेलवे की पेंशन न रुकने पाये इसके लिए सास की मौत के बाद एक बहू ने पति की सहमति से अपने ससुर से विवाह रचा लिया। शादी का रजिस्ट्रेशन रजिस्ट्री कार्यालय में कराने के बाद बतौर नामिनी रेलवे पेंशन पास, पीटीओ व अन्य कागजात में नाम भी दर्ज करा लिया, लेकिन जेठ की शिकायत पर तीनों के खिलाफ मुकदमा लिख गया। मामला बेलीपार थाना क्षेत्र के ग्राम भस्मा का है। यहां के सुरेन्द्र नाथ पाण्डेय रेलवे में नौकरी करते थे। उनकी पत्नी का 25 दिसम्बर 1997 को हो चुका है। सुरेंद्र के छोटे लड़के ने पिता की मृत्यु के बाद भी पेंशन जारी रखने के लिए अपनी पत्नी पूजा को कागजों में पिता की बीवी घोषित करा दिया, वह भी पिता और पत्नी की सहमति से। इस फर्जी ब्याह के बावत 29 मई 2006 को रजिस्ट्री कार्यालय में पंजीकरण भी कराया गया। इस दस्तावेज के आधार पर रेलवे के पेंशन, यात्रा पास सहित अन्य सुविधाओं के लिए पूजा को बतौर पत्नी नामिनी दर्ज करा दिया गया। इधर इस मामले की भनक लगने पर सुरेंद्र पाण्डेय के बड़े लड़के प्रशांत ने कोर्ट को हकीकत के बारे में बताया तो पिता के साथ-साथ उनके छोटे भाई और अनुज वधू के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का आदेश जारी हो गया।

कोई टिप्पणी नहीं:

..............................
Bookmark and Share