02/09/2008

अभिनेत्रियों का दिल


अभिनेत्रियों का दिल और पानी का बुलबुला एक ही तरह का होता है. इनके रोमांस के बदलते किस्से और पानी के फूट्ते बुलबुले में कुछ खास अंतर नजर नही आता. बालीबुड में कितनी जोडिया बनती हैं और कितनी टूट जाती हैं. इसका रिकार्ड रखने के लिये एक अलग दफतर खोलने की जरूरत पडेगी. इनकी मार को भूलना आसान नही है. बहुत से लोग ऐसे सदमे की बाढ में बह गये है. कुछ ऐसे रह जाते हैं जो अपना दिल थामे अपने दर्द का इजहार भी नही कर पाते हैं. अभी करीना कपूर और शाहिद कपूर की जोडी सुर्खियो में थी. अब इसमे एक चेहरा बदल गया है. करीना तो कायम है लेकिन शाहिद की जगह सैफ अली खान आ गये हैं. नवाब घराने के वही सैफ अली खान जो कुछ साल पहले अपने से काफी बडी अमृता को दिल दे बैठे. उन्हे अपना शरीके हयात भी बनाये लेकिन उनकी जोडी चल नही पायी. तलाक हुआ और दोनो की राहे जुदा जुदा हो गयी. सैफ को अमृता की दूसरी राह पसंद नही आयी. अब सैफ करीना पर फिदा हैं और शाहिद विद्या बालन से लेकर सानिया मिर्जा तक को टिपिया रहे हैं. शाहिद पर तरस तो आती ही है. अपने युवराज बेचारे दीपिका पादुकोण से नैना चार किये लेकिन जल्दी सफलता के कदम चूम लेने वाली इस बाला को लगा के शोहरत की दुनिया में युवराज की जगह रणवीर कपूर ज्यादा बेहतर है सो उन्होने अपने दिल का तार रणवीर से जोड लिया. भूरी आंखो वाली ऐश्वर्या का तो पूछिये मत. जब सलमान सेट पर उनकी ऐसी तैसी करने पहुंचे रह्ते थे तब बेचारे विवेक ओबराय अपनी कसरती शरीर की पूरी ताकत समेट कर ऐश्वर्या की हिफाजत में जुटे रह्ते थे. बच्चन खानदान से नजदीकी बढी तो फिर उन्होने विवेक को झटक दिया. जबकि अभिषेक बच्चन को तो करीना की दीदी पहले ही झटका दे चुकी थी. करिश्मा के झटके से आहत अभिषेक ने ऐश का दामन थाम लिया. सलमान और कैट के किस्से में रोज कोई न कोई क्लाइमेक्स रहता है. यह कोई नयी बात नही है. राज कपूर और नरगिस से लेकर आज तक ऐसे बहुत से किस्से हैं जब इन हीरोइनो का दिल पानी के बुलबुले की तरह फूटता रहता है. अल्ला बचाये इन हसीनो से.

कोई टिप्पणी नहीं:

..............................
Bookmark and Share